माँ चंद्रघंटा देवी की पूजा विधि एवं मंत्र समेत सभी जानकारी

माँ चंद्रघंटा नवरात्रि के तीसरे दिन की देवी हैं। इनका नाम “चंद्रघंटा” इसलिए पड़ा क्योंकि इनके मस्तक पर अर्धचंद्र है, जो उनकी शीतलता और सौम्यता का प्रतीक है। इनकी चार भुजाएँ हैं, जिनमें से प्रत्येक में एक शस्त्र है, जो ज्ञान, शक्ति, साहस और दया का प्रतीक है। इनकी सवारी सिंह है, जो शक्ति और साहस का प्रतीक है।

माँ चंद्रघंटा को “शक्ति की देवी” के रूप में भी जाना जाता है। ये अपने भक्तों को सभी प्रकार के कष्टों से मुक्त करती हैं और उन्हें सुख-समृद्धि प्रदान करती हैं।

माँ चंद्रघंटा की पूजा से निम्नलिखित लाभ होते हैं:

  • ये अपने भक्तों को सभी प्रकार के कष्टों से मुक्त करती हैं।
  • ये अपने भक्तों को सुख-समृद्धि प्रदान करती हैं।
  • ये अपने भक्तों को ज्ञान, शक्ति और साहस प्रदान करती हैं।
  • ये अपने भक्तों के जीवन में शांति और समृद्धि लाती हैं।

माँ चंद्रघंटा की पूजा विधि:

  • सबसे पहले, एक स्वच्छ स्थान पर माँ चंद्रघंटा की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें।
  • फिर, माँ को गंगाजल से स्नान कराएं और उन्हें वस्त्र, फूल, माला, अक्षत, धूप, दीप आदि अर्पित करें।
  • इसके बाद, माँ चंद्रघंटा के मंत्र का जाप करें।
  • अंत में, माँ से प्रार्थना करें और उनका आशीर्वाद प्राप्त करें।

माँ चंद्रघंटा का मंत्र:

ॐ देवी चन्द्रघण्टायै नमः॥

पिण्डज प्रवरारूढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता। प्रसादं तनुते मह्यम् चन्द्रघण्टेति विश्रुता॥

चंद्रघंटा देवी को क्या चढ़ाएं?

माँ चंद्रघंटा को दूध, दही, मक्खन, शहद, घी, मिठाई, फलों और फूलों का भोग लगाया जाता है। इसके अलावा, उन्हें धूप, दीप और नैवेद्य भी चढ़ाया जाता है।

चंद्रघंटा देवी की कथा

एक बार, भगवान शिव और पार्वती कैलाश पर्वत पर विराजमान थे। पार्वती ने भगवान शिव से पूछा कि वे सभी देवताओं की रक्षा कैसे करते हैं। भगवान शिव ने उन्हें बताया कि वे अपनी शक्तियों का उपयोग करके सभी देवताओं की रक्षा करते हैं।

पार्वती ने भगवान शिव से कहा कि वे भी देवताओं की रक्षा करना चाहती हैं। भगवान शिव ने उन्हें एक शक्ति प्रदान की, जिससे वे चंद्रघंटा देवी के रूप में प्रकट हुईं। चंद्रघंटा देवी ने अपनी शक्तियों का उपयोग करके सभी देवताओं की रक्षा की और उन्हें दुष्टों से बचाया।

चंद्रघंटा देवी का महत्व

माँ चंद्रघंटा नवरात्रि के तीसरे दिन की देवी हैं। इनकी पूजा करने से भक्तों को सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिलती है और उन्हें सुख-समृद्धि प्राप्त होती है। माँ चंद्रघंटा की पूजा करने से भक्तों को ज्ञान, शक्ति और साहस भी प्राप्त होता है।

Maa Chandraghanta Navratri 3 Day Video Status

माँ चंद्रघंटा देवी की हार्दिक शुभकामनाएं

Maa Chandraghanta Devi Images

Leave a Comment